चंद रूपयों के लिए की थी ‘‘नवाब’’ ने देश से गद्दारी

13 मार्च 2019
Author :  

नवीन वैष्णव अजमेर
देश में रहकर चंद रूपयों के लिए दुश्मन देश की मदद करने वाला नवाब खां राजस्थान पुलिस की इंटेलीजेंस के हत्थे चढ़ गया है। इंटेलीजेंस के एडीजी उमेश मिश्रा ने बताया कि जैसलमेर के सम थाना क्षेत्र में रहने वाला नवाब खां पेशे से टैक्सी चालक है जो पर्यटकों को घूमाने का काम करता है। वह इस पेशे की आड़ में पाकिस्तान को सेना व देश के बॉर्डर से जुड़ी जानकारियां भेजता था। इसे भेजने के लिए भी वह कोड़िंग काम में लेता था। मिश्रा ने बताया कि नवाब खां पाकिस्तान के लिए जासूसी का काम करता था। पाकिस्तान के हैंडलिंग अधिकारियों को वह व्हॉटसएप कॉल और मैसेज के जरिए कोड़ में संदेश देता था। वहीं टास्क के रूप में भी वह काम करता था। इसकी एवज में उसे पाकिस्तान की ओर से चंद रूपए दिए जाते थे। 
धार्मिक यात्रा से शुरू हुआ खेल
एडीजी मिश्रा ने बताया कि वर्ष 2018 की शुरूआत में नवाब खां अपने पिता व अन्य परिजनों के साथ पाकिस्तान में धार्मिक यात्रा पर गया था। इसी दौरान उसके पिता के रिश्तेदार ने ही पाक खुफिया एजेंसी के अधिकारी से मुलाकात करवाई थी साथ ही उसे बड़ी रकम की पेशगी भी की गई थी। नवाब खां द्वारा जासूसी के काम के लिए हां करने पर उसे स्पेशल ट्रेनिंग भी दी गई। वह पाकिस्तान 22 दिन रूककर आया था। फिलहाल नवाब खां से जयपुर में गहनता से पूछताछ की जा रही है।
टीम को बधाई
देश से गद्दारी करने वाले नवाब खां को पकड़ने वाली टीम को बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएं। इसी तरह से काम करते हुए देश में रहकर गद्दारी करने वालों को सबक सिखाए, साथ ही मैं ऐसी जरा सी भी सोच रखने वाले लोगों से गुजारिश करना चाहूंगा कि वह एक बार उस मुल्क में जाकर रहें, उन्हें इस बात का अंदाजा हो जाएगा कि वाकई में हिन्दुस्तान और यहां की जनता से बेहतर कोई नहीं है। रही चंद रूपयों के लिए ऐसा करने की बात तो, यह अपनी जन्मदात्री मां को दुश्मनों के हाथों बेचने जैसा है, इसलिए देश के प्रति वफादार रहें।

नवीन वैष्णव
(पत्रकार), अजमेर

37 Views
palpal

Email यह ईमेल पता spambots से संरक्षित किया जा रहा है. आप जावास्क्रिप्ट यह देखने के सक्षम होना चाहिए.