-->

दिगंबर जैन संतो की फोटो डालने पर अकाउंट ससपेंड, जैन समाज पर आघात

फेसबुक का जैन धर्म पर बड़ा आघात, दिगंबर जैन संतो को बताया अश्लील, फोटो डालने पर अकाउंट ससपेंड
जैन मीडिया ने किया फेसबुक के इस फैसले का विरोध, कहा जैन समाज फिर एक बार २४ अगस्त २०१६ को दौरहेगा, जैन धर्म गुरु के चित्र को अश्लील बताने पर फेसबुक को मांगना होगा माफ़ी
 
इंदौर : जैन समाज के एक संप्रदाय दिगंबर समाज में संतों का नग्न अवस्था में रहना सदियों पुराणी प्रथा है और यह प्रथा सिर्फ जैन धर्म में ही नहीं वरन सनातन धर्म में भी नागा साधु के रूप में तपस्वी प्रसिद्ध है ऐसे में फेसबुक गत २ - ३ माह पूर्व से जैन संतों के तस्वीर डालने पर फेसबुक अकाउंट को ३ दिन से लगा कर ३० दिन (एक माह) के लिए ब्लॉक (ससपेंड) कर दे रहा है. यह मामला प्रकाश में तब आया जब २१ नवम्बर २०१८ को उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिला में दिगंबर संत श्री आचार्य विधायसागर जी महाराज जिनको जैन समाज धरती के भगवान मानता है तो वहीँ अन्य धर्म के लोग भी आचार्य श्री के दर्शन कर खुद को धन्य मानते है. ऐसे में जब ललितपुर नगर प्रवेश के चित्र जिसपर मनुष्य शरीर में मौजूद (प्रायवेट पार्ट) की जगहों पर समाज जन द्वारा किसी धर्म या मनुष्य को आघात न हो इस लिए एडिटिंग कर के पोस्ट किया गया जिसके बाद भी फेसबुक ने एक सन्देश देते हुए कहता है की आपके द्वारा पोस्ट किया गया फोटो सामग्री नग्नता या यौन सामग्री में यह शामिल होता है. जिस सन्दर्भ में 4 कारणों का हवाला देते हुए फेसबुक अकाउंट को बंद कर दिया जो की निम्न प्रकार है १- यौनांग दिखने वाली नग्नता, २- योन गतिविधि, महिला के स्तन, कामुक भाषा. जिस से यह जैन समाज में आघात हुआ है की फेसबुक जैन धर्म के धर्म गुरु को अश्लीलता के साथ तौल रहे है.
 
जैन मीडिया ने किया विरोध कहा हम करेंगे फेसबुक के खिलाफ आंदोलन
 
जैन मीडिया सोशल वेलफेयर सोसाइटी के राष्ट्रिय अध्यक्ष वरिष्ठ पत्रकार विनायक अशोक लुनिया एवं राष्ट्रिय महासचिव अतुल जैन ने बताया की इस घटना के बाद से जैन समाज में भारी मात्रा में फेसबुक के खिलाफ रोष है एवं यह हमारे धर्म व् धर्मगुरु का अपमान है, जिसको जैन समाज किसी कीमत पर बर्दास्त नहीं करेगा और जल्द ही देश भर में फेसबुक के खिलाफ रैली एवं अन्य माध्यम से अपना विरोध दर्ज करवा कर फेसबुक को जैन धर्म गुरु के लिए उपयोग किया गया शब्दों को वापस लेते हुए जैन समाज से माफ़ी मांगने के लिए मजबूर करेगा.
 
फेसबुक पर होता है खुले आम पोर्न प्रदर्शन 
 
श्री लुनिया ने आगे बताते हुए कहा की एक तरफ फेसबुक नग्नता का हवाला दे रहा है वहीँ फेसबुक के द्वारा निर्धारित मानकों के दायरे में आने वाले पोर्न पोस्ट धडले से फेसबुक पर पोस्ट शेयर हो रहे है यहाँ तक पोर्न वाली प्रोफाइल पिक्चर एवं पिक्चर व् वीडियो ऑटो टैग हो जाते है वहीँ हजारो की तादात में फेसबुक पर अश्लील पेज व् ग्रुप बना रखा गया है उनको फेसबुक ब्लॉक नहीं कर रहा है जबकि जैन  धर्म शांति का प्रतिक होने के साथ ही धर्म अहिंसा परमोधर्म को मानता है उनके धर्म गुरु पर इस तरह का आघात समाज बिलकुल सहेगा.