राजनीति

  • 13
  • मई

इंदौर. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सोमवार को इंदौर में रोड शो किया। राजमोहल्ला से राजबाड़ा तक लगभग 4 किलोमीटर के रास्ते पर निकले रोड शो में हजारों समर्थक उपस्थित थे। इससे पहले उन्होंने उज्जैन में बाबा महाकाल की विशेष पूजा-अर्चना की और रतलाम में जनसभा को संबोधित किया। प्रियंका गांधी ने राजमोहल्ले पर स्थित शहीद भगतसिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर रोड शो को प्रारंभ किया। यह रोड शो मालगंज, नर्सिंह बाजार, बम्बई बाजार, गुरुद्वारा होते हुए लगभग 2 घंटे बाद राजवाड़ा पहुंचकर समाप्त हुआ। राजवाड़ा पर प्रियंका का संक्षिप्त भाषण हुआ जिसमें उन्होंने भाजपा पर जमकर निशाना साधा। राजबाड़ा पर प्रियंका ने कहा कि बड़ी-बड़ी बातें करने वाले नेेता से आप पूछिये कि उन्होंने अपाके लिए किया क्या है। जो आज बड़े बड़े वादे आपसे कर रहे हैं उनके घमंड को तोड़ दिजीए, उन्हें सबक सिखाईये, बहुत हो चुकी उनकी मनमानी, पिछले 5 साल से परेशान कर रखा है उन्होंने। अपने आप को तपस्वी कहने वाले हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सबक सिखाना है। लोकतंत्र को बचाना है तो आपका वोट सही पार्टी और उम्मीदवार को दे। गाड़ी से उतरकर लोगों से मिली प्रियंका एयरपोर्ट से राजमोहल्ला जाते समय प्रियंका गांधी ने रामचंद्र नगर चौराहे पर अचानक अपनी गाड़ी रुकवाई और वहां खड़े लोगों से मिलने जा पहुंची। उन्होंने वहां मौजूद लोगों से हाथ मिलाए, उनके हालचाल पूछे और पुन: गाड़ी में बैठ रोड शो के लिए रवाना हो गई। प्रियंका के रोड शो लगभग 4 किलोमीटर का था। इस पूरे क्षेत्र को कांग्रेसियों ने झंडे बैनरों से पाट दिया था। बड़ी संख्या में कांग्रेसी रोड शो में शामिल हुए। प्रियंका खुले रथ पर सवार थी, मप्र के मुख्यमंत्री कमलनाथ, छग के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, मंत्री सज्जन वर्मा,जीतू पटवारी,तुलसी सिलावट इंदौर से कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी पंकज संघवी आदि भी उनके साथ थे। एसपीजी की टीम ने रोड शो का पूरा रूट चेक करती जा रही थी। रोड शो के रास्ते पर लगभग 100 मंच लगाए गए थे। शो में महिलाओं और युवतियों की भारी भीड़ रही। रायबरेली से भी कुछ युवतियां प्रियंका के रोड शो के लिए इंदौर आई थी।

  • 13
  • मई

इंदौर।आज 13 मई शाम 7:15 बजे लाभ मंडपम, रेसकोर्स रोड में गुजरात के मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी पार्टी प्रत्याशी शंकर लालवानी के समर्थन में सभा को संबोधित करेंगे एवं केन्द्रीय मंत्रीफ नितिन गड़करी रात्रि 8 बजे गुरू अमरदास हॉल में प्रबुद्धजनों से चर्चा करेगे।

  • 13
  • मई

उज्जैन। (रजनी खैतान) कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सोमवार को प्रमुख ज्योतिर्लिंगों में से एक महाकालेश्वर (महाकाल) मंदिर में पूरे विधि विधान से पूजा की और पंचामृत से अभिषेक किया। प्रियंका ने वाड्रा ने मंदिर के गर्भगृह में भगवान महाकालेश्वर का दूध, पंचामृत और अबीर-गुलाल से अभिषेक किया। इस दौरान गर्भगृह में मुख्यमंत्री कमलनाथ और वरिष्ठ नेता सुरेश पचौरी भी मौजूद थे। तीनों आला नेता करीब आधे घंटे तक गर्भगृह में रुके और अनुष्ठान किया। प्रियंका गांधी हवाई जहाज से इंदौर और फिर वहां से हेलिकॉप्टर से उज्जैन पहुंचीं। उनके साथ मुख्यमंत्री कमलनाथ भी थे। प्रियंका ने महाकालेश्वर मंदिर में पूजा पाठ करने के साथ ही पंचामृत पूजन किया। देश के 12 ज्योतिर्लिंगों में प्रमुख भगवान महाकालेश्वर मंदिर में इसके पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव के प्रचार के दौरान दर्शन के लिए आए थे। प्रियंका ने मध्य प्रदेश के उज्जैन, रतलाम और इंदौर संसदीय क्षेत्र में चुनाव प्रचार कर रही हैं। शाम को उनका इंदौर में करीब दो घंटे का एक रोड शो होगा। वे इस चुनाव के दौरान पहली बार मध्यप्रदेश आई हैं। पूजा अर्चना के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अनुष्ठान कराने वाले पुजारी का शॉल भेंट कर सम्मान भी किया। प्रदेश में 19 मई को आखिरी चरण में इंदौर, उज्जैन, मंदसौर, खंडवा, खरगोन, देवास, धार और रतलाम में चुनाव शेष है। मध्यप्रदेश की इन आठ सीटों में से कई पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का बड़ा प्रभाव माना जाता है।

  • 13
  • मई

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को पश्चिम बंगाल के जाधवपुर में रैली करने की इजाजत नहीं मिली है। साथ ही यहां उनके हेलीकॉप्‍टर को भी लैंड करने की अनुमति नहीं मिली है। लोकसभा चुनाव 2019 के सातवें चरण के लिए 19 मई को मतदान होना है। ये मतदान का आखिरी चरण है, इसलिए सभी पार्टियों ने अपनी पूरी ताकत झौंकने की तैयारी कर ली है। हालांकि, इस बीच ममता बनर्जी का भाजपा की राह में बांधाएं उत्‍पन्‍न करना जारी है। ममता बनर्जी इससे पहले भी भाजपा नेताओं को सुरक्षा का हवाला देते हुए पश्चिम बंगाल में रैली करने और हेलीकॉप्‍टर की लैंडिंग की इजाजत देने से इन्‍कार कर चुकी हैं। आज 12.30 बजे शाह यहां रैली करने वाले थे। इससे पहले 22 फरवरी को भी ममता बनर्जी ने अमित शाह की मालदा रैली के दौरान उनके हेलीकॉप्टर लैंडिंग पर रोक लगा दी थी। जिसके बाद बीजेपी ने ममता सरकार पर प्रशासनिक शक्तियों का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया था। भाजपा की तरफ से कहा गया था कि जब हर हफ्ते सीएम का चॉपर वहां उतरता है, तब फिर शाह के हेलीकॉप्टर को इजाजत देने में क्या दिक्कत है? हालांकि बाद में दीदी ने इसके लिए उन्हें इजाजत दे दी थी। वहीं ममता सरकार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हेलीकॉप्टर लैंडिंग पर भी रोक लगा चुकी है। इसके बाद योगी ने बालुरघाट और रायगंज में रैलियों को संबोधित करने के लिए सड़के के माध्यम से बंगाल जाने का निर्णय लिया था। भारतीय जनता पार्टी की रथयात्रा को भी राज्य में अनुमति नहीं मिली थी। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने शाह की रथयात्रा पर रोक लगा दी थी। उन्हें यहां सिर्फ रैलियां और जनसभाएं करने की इजाजत मिली थी, लेकिन दीदी कई बार सुरक्षा का हवाला देकर इनमें भी रोडे अटका चुकी हैं। सर्वोच्च न्यायालय ने शाह की रथयात्रा को लेकर कहा था कि इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता की इससे सौहार्द बिगड़ सकता है। बता दें कि अमित शाह आज पश्चिम बंगाल में तीन जगह जनसभा को संबोधित करने वाले थे। उनकी पहली रैली सुबह जयनगर में होनी थी, इसके बाद वह जाधवपुर और बरासत लोकसभा सीटों पर जनसभाओं को संबोधित करने वाले थे।

पृष्ठ 1 का 138