राजनीति

  • 03
  • मई

धौलपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि आपका एक वोट कांग्रेस को मजबूत बनाएगा। हमारी सरकार प्रदेश में पांच साल तक बिजली की दरें नहीं बढ़ाएगी। यह बात मुख्यमंत्री गहलोत ने धौलपुर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही। गहलोत ने कहा कि हमने छह सौ दवाइयां फ्री कर दी हैं। प्रदेश में अापकी ही सरकार है।

मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि नोटबंदी करके देश की अर्थव्यवस्था का खत्म कर दिया है। मोदी जी नोटबंदी करके महिलाओं और गरीबों की जेब से पैसे निकलवाए । केन्द्र में कांग्रेस सरकार आई तो किसानों के लिए अलग से बजट बनाएंगे। जिससे अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी।

  • 02
  • मई

रांची, जेएनएन। 'देश का हर नागरिक ईमानदार और संवेदना से भरे संकल्पित नेता को चाह रहा है। लोकसभा चुनाव के चार चरण संपन्न हो चुके हैं। भाजपा को स्पष्ट बहुमत मिलने की संभावना है। हम पिछले चुनाव से ज्यादा सीटें जीतेंगे।' उक्त बातें केंद्रीय कोयला और रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को यहां अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन की ओर से चैंबर भवन में आयोजित 'लोकतंत्र का उत्सव-2019' कार्यक्रम में कही। मौके पर अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष गिरीश कुमार सांघी भी मौजूद थे। समारोह में काफी संख्या में समाज के प्रबुद्धजन और व्यवसायी मौजूद रहे।

केंद्रीय रेल व कोयला मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को रांची के चैंबर भवन में आयोजित अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन के समारोह में अपने विचार रखे। इस मौके पर वैश्य महासम्मेलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष गिरीश कुमार सांघी भी मौजूद थे।

पीयूष गोयल ने कहा कि पूर्वी उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्यप्रदेश और झारखंड में भी हम विजयी होने वाले हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने पांच साल देश के लिए दिया। सरकार के सभी कार्य पारदर्शिता के साथ हो रहे हैं। महिलाओं का ध्यान रखते हुए वाशिंग मशीन पर जीएसटी कम कर दिया गया। उद्योग और व्यापार के और नए रास्ते खुलेंगे।

रेलवे सुविधाओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि दस अप्रैल तक देश के 1600 स्टेशन पर वाइ-फाइ की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। दो सितंबर तक 6400 स्टेशनों पर यह सुविधा मुहैया करा दी जाएगी। इससे यात्रियों को लाभ मिलेगा। गोयल ने कहा कि हमने कभी भी सेकेंड बेस्ट सुविधा नहीं दी, जो भी दिया बेस्ट दिया। रांची संसदीय क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी संजय सेठ के पक्ष में मतदान की अपील करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आपका हर वोट प्रधानमंत्री के हाथों को मजबूत करेगा।

इस मौके पर महासम्मेलन के अध्यक्ष गिरीश कुमार सांघी ने कहा कि हमने बार-बार देश-समाज के लिए योगदान दिया है और आगे भी देते रहेंगे। इस बार फिर से मोदी सरकार बनानी है। राष्ट्र को मजबूत करना है। अधूरी योजनाओं को पूरा करना है। युवाओं को स्वाभिमानी और स्वावलंबी बनाना है।

  • 02
  • मई

फेसबुक पर पोस्ट डालने को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहने वाले पूर्व सीपीएस नीरज भारती ने इस बार चुनाव आयोग की मतदान प्रतिशतता बढ़ाने की मुहिम पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं। अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट डाल उन्होंने चुनाव आयोग से पूछा है कि इस बार ऐसा क्या है जो वोट डालना जरूरी है। वोट डालने के लिए क्यों इनता दबाव बनाया जा रहा है। वह तो पहले ही कह चुके हैं कि जब तक ईवीएम नहीं हटेगी वह वोट नहीं डालेंगे।

आखिर इस बार चुनाव आयोग लोगों को इतना प्रेरित क्यों कर रहा है, मतदान करने के लिए। आज मेरी बेटी के स्कूल में एक फॉर्म दिया गया है, जिसको पेरेंट्स के द्वारा भरना है और उसमें बच्चे की तरफ से एक भावुक अपील की गई है कि आप दोनों वोट डालने जरूर जाएंगे। आखिर इस बार ऐसा क्या है, जो वोट डालना जरूरी है, क्यों इतना दवाब बनाया जा रहा है वोट डालने के लिए

मैं तो एक साल पहले ही कह चुका हूं कि जब तक ईवीएम नहीं हटेगी मैं अपने मताधिकार का उपयोग नहीं करूंगा और आज भी मैं इस बात पर अडिग हूं, जब मुझे ईवीएम पर विश्वास ही नहीं है कि मेरा वोट मेरी पार्टी को जा रहा है तो मैं क्यों अपने मताधिकार का उपयोग करूं। भविष्य में भी अगर ईवीएम से ही वोटिंग जारी रहेगी तो मैं भविष्य में भी कभी अपने मताधिकार का उपयोग नहीं करूंगा।

  • 02
  • मई

नई दिल्ली। इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। जिसमें कुछ बच्चे कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के सामने पीएम नरेंद्र मोदी को गाली देते नजर आ रहे हैं। अब इसी वीडियो ने प्रियंका गांधी के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। बच्चों के ‘चौकीदार चोर है’ नारे पर प्रतिक्रिया देने पर राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग चुनाव आयोग के पास पहुंचा है। राष्ट्रीय बाल अधिकार संक्षरण आयोग ने चुनाव आयोग से कार्रवाई की मांग की है। बाल आयोग ने कहा कि चुनाव प्रचार में बच्चों का इस्तेमाल किया जा रहा है।

इस मामले में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने इस पर आपत्ति जताते हुए ट्वीट कर अपना गुस्सा निकाला था। स्मृति ईरानी ने बुधवार सुबह एक ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने एक वीडियो साझा करते हुए लिखा कि सोचिए एक पीएम को कितना कुछ सहना पड़ता है। क्या इससे लुटियंस में गुस्सा दिखाई दिया? अब बाल आयोग ने प्रियंका गांधी की शिकायत उनके सामने पीएम मोदी को गाली देते बच्चों का वीडियो वायरल होने के आधार पर की है। गौरतलब है कि 30 अप्रैल को प्रियंका गांधी की मौजूदगी में कुछ बच्चे नारे लगाते हुए दिखे थे। ये बच्चे ‘चौकीदार चोर है’ जैसे कुछ मोदी विरोधी नारे लगा रहे थे। इस दौरान अचानक बच्चे आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करने लगे। इस दौरान पहले तो प्रियंका गांधी हंसते हुए दिखीं लेकिन इसके बाद उन्होंने बच्चों को रोकते हुए कहा कि वह सिर्फ अच्छे नारे ही लगाएं।