-->

नरेन्द्र मोदी जी चोर ही नहीं बड़े चालू भी हैं- राहुल

25 अप्रैल 2019
Author :  

किसान, मजदूर, गरीब, युवा बेरोजगारों से वायदे करते हैं और पैसा अमीरों की जेबों में डालते हैं अजमेर, 25 अप्रैल (कलसी)। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने अजमेर जिले के मसूदा विधान सभा क्षेत्र के छोटे से कस्बे बांदनवाड़ा में बुधवार को चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि देश का चैकीदार नरेन्द्र मोदी चोर ही नहीं बड़े चालू भी हैं। नरेन्द्र मोदी किसान, मजदूर, गरीब, युवा, बेरोजगारों और महिलाओं से सिर्फ वायदे करते हैं और पैसा अमीरों की जेबों में डालते हैं। राहुल ने अनिल अंबानी, नीरव मोदी, मेहुल चैकसी, विजय माल्या को चोर बताते हुए कहा कि देश के चैकीदार मोदीजी ने गरीब व छोटे व्यापारियों व किसानों की जेबों से पैसा निकाल कर अमीरों की जेबें भरने का काम किया है। गरीबों के तो मोदीजी ने सिर्फ बैंकों में खाते खुलवाए किन्तु पैसा अमीरों के जेबों में डाला। इसलिए अब वे न्याय योजना लाएंगे और मोदीजी के खुलवाए गरीबों के बैंक खाते में पैसा डालने का काम करेंगे। राहुल ने आसन्न लोकसभा चुनाव में जनता से झूठ और सच्चाई में से किसी एक को चुनने का आह्वान किया। यह बात दीगर है कि राहुल गांधी ने अपने उद्बोधन में अजमेर के कांग्रेस प्रत्याशी रिजु झुनझुनवाला का नाम तक नहीं लिया। राहुल गांधी ने अपने भाषण की शुरुआत ही देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर तंज करते हुए की। राहुल ने कहा कि 5 साल से नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री हैं, उन्होंने प्रधानमंत्री बनने से पहले जनता से वायदा किया था कि सत्ता में आते ही उनके बैंक खाते में 15 लाख रुपए डाल देंगे किन्तु आज तक नहीं डाले। देश का चैकीदार 5 साल से झूठ पर झूठ बोल रहा है, वह किसान, मजदूर, गरीब, बेरोजगारों से सिर्फ वायदे पर वायदे कर रहा है और लाभ सिर्फ देश के 15 अमीरों को पहुंचा रहा है। अमीरों का कर्ज किया माफ- देश में 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी इन पांच सालों में हुई। नोट बंदी और जीएसटी ने छोटे व्यापारियों, मजदूरों, कारोबारियों के धंधे चैपट कर दिए। इन व्यापारियों के जेब से पैसा निकाल कर अमीरों की जेबों में डालने का काम किया। चैकीदार मोदी ने किसान का कर्जा माफ नहीं किया किन्तु देश इन 15 अमीरों के 5 लाख 55 हजार करोड़ रुपया कर्ज माफ कर दिया। कांग्रेस सुनती है मन की बात- राहुल गांधी ने मोदी पर तंज करते हुए कहा कि मोदीजी मन की बात जनता से करते हैं। कांग्रेस जनता के मन की बात सुन कर निर्णय करती है। राहुल ने कहा कि कांग्रेस ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में जनता के मन की बात सुनकर निर्णय किया है कि न्याय योजना के तहत 2019 का चुनाव समाप्त होने पर और देश में कांग्रेस की सरकार बनने पर 5 करोड़ परिवारों के बैंक खाते में सालाना 72 हजार रुपए डाले जाएंगे। इससे दो फायदे होंगे। देश के गरीब परिवारों की मदद होगी और दूसरा यह कि देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी। कांग्रेस है तो सच्चाई है- राहुल ने कहा कि मोदी सरकार की नोट बंदी और जीएसटी यानी गब्बर सिंह टैक्स ने देश की अर्थ व्यवस्था को चैपट कर दिया है। राहुल ने चुनावी घोषणा पत्र को दोहराते हुए युवाओं, महिलाओं, किसानों व मजदूरों के लिए किए गए निर्णयों को फिर से गिनाया। राहुल ने कहा कि कांग्रेस है जो सिर्फ सच्चाई है। कांग्रेस की सच्चाई का प्रमाण राजस्थान की जनता ने विधानसभा चुनाव में देखा है। कांग्रेस ने राजस्थान में सत्ता में आते ही 11 दिन में किसानों का कर्जा माफ करने का वायदा किया था उसे दो दिन में लागू कर दिया गया। बेरोजगारी भत्ता हो, या अन्य घोषणाएं उन्हें लागू किया जा रहा है। किसान बजट अलग होगा- राहुल ने कहा कि केंद्र सरकार किसी एक आदमी की नहीं सरकार आम जनता की होती है। उन्होंने कहा कि उन्होंने लोगों के मन की बात सुनी है तब निर्णय किया मनरेगा में अब 100 दिन की जगह 150 दिन किए जाएंगे। देश में कांग्रेस शासन में आई तो एक की जगह दो बजट होंगे इसमें किसानों के लिए अलग से बजट होगा। उन्होंने दोहराया कि किसानों को अपना प्लान साल के प्रारंभ में ही बनाने का अवसर मिलेगा। उन्हें पता होगा कि उनका कितना कर्जा माफ होना है और कितना बोनस मिलना है। राहुल ने कहा कि बैंक का ऋण नहीं लौटाने पर किसान को जेल में नहीं डाला जाएगा। युवाओं को शक्ति देने का इरादा- युवाओं को आकर्षित करते हुए राहुल ने कहा िकवे युवाओं को शक्ति प्रदान करने का इरादा रखते हैं। देश में 22 लाख सरकारी नौकरियों के पद खाली पड़े हैं कांग्रेस की सरकार सत्ता में आई तो इन्हें तुरन्त भर दिया जाएगा। 10 लाख युवाओं को हिन्दुस्तान की पंचायतों में नौकरी पर रखा जाएगा। देश का युवा स्वरोजगार करना चाहेगा तो उसे पहले तीन साल तक किसी भी सरकारी इजाजत की जरूरत नहीं होगी। महिलाओं को नौकरियों में आरक्षण- महिलाओं को रिझाते हुए राहुल ने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनी तो महिलाओं को नौकरियों में 35 प्रतिशत तक आरक्षण होगा वहीं राज्य सभा, विधानसभा, लोकसभा सभी जगह महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षित रहेंगी। राफेल का जिक्र तक नहीं- राहुल ने अपने भाषण में चैकीदार चोर है के महिलाओं से नारे लगवाए किन्तु राफेल सौदे का जिक्र तक नहीं किया। राहुल गांधी ने देश के बड़े उद्योगपति और सबसे अमीर अनिल अम्बानी को चोर बताते हुए कहा कि चैकीदार नरेन्द्र मोदी ने किसानों का कर्जा माफ नहीं किया सिर्फ 15 अमीरों के 5 लाख 55 हजार करोड़ रुपए माफ कर दिए। इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा लोकसभा 2019 का चुनाव लोकतंत्र को बचाने का चुनाव है। लोकसभा चुनाव आम आदमी के वोट की रक्षा का चुनाव है। उन्होंने कहा कि लोग तय कर चुके हैं कि मोदीजी को सबक सिखाना है। उन्होंने कांग्रेस शासन के दौरान राष्ट्रीय सुरक्षा और समृद्धि में लिए ऐतिहासिक निर्णयों को गिनाया। सभा का संचालन चिकित्सा मंत्री डाॅ रघु शर्मा ने किया।

48 Views
palpal