-->

कुपोषण दर कम करने के उद्देश्य से पोषण अभियान के तहत हर रोज विभिन्न जागरूकता व अन्य अतिविधिया आयोजित

14 मार्च 2019
Author :  

बून्दी। कुपोषण दर कम करने के उद्देश्य से जिले मे संचालित किये जा रहे पोषण अभियान के तहत हर रोज विभिन्न जागरूकता व अन्य अतिविधिया आयोजित की जा रही है। अभियान के तहत 09 मार्च से 22 मार्च तक विशेष पोषण पखवाडा मनाया जा रहा है। ताकि कुपोषण के प्रति आम जन को जागरूक किया जा सके। इस दौरान मुख्यतः धात्री महिलाओ, किशोरी बालिकाओ व छः वर्ष आयु तक के बच्चो को पोषण के बारे मे जानकारी दी जा रही है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ0 जी0एल0मीणा ने बताया कि पखवाडे के दौरान पूर्णतः स्वास्थ्य एवं पोषण को बडावा देने के लिए विभाग की ओर से समुदाय स्तर पर सघन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। गृह आधारित नवजात देखभाल कार्यक्रम के तहत सभी लाभार्थियो के घरो पर प्रस्तावित गृह भ्रमण आशा, व एएनएम कर रही है।

वही एनिमिया अभियान के तहत लक्ष्यित गर्भवती महिलाओ, किशोरःकिशोरियो, बच्चो, प्रजनन उम्र की महिलाओ की हिमोग्लोबिन जाच पोषण पखवाडे के दौरान करने के निर्देश सभी स्वास्थ्य केन्द्र प्रभारियो को दियेगये है। 09 मार्च को आयोजित सुरक्षित मातृत्व दिवस पर भी गर्भवती महिलाओ का एनिमिया टेस्ट आदि किया गया। और उन्हें हिमोग्लोबिन उपचार व बचाव के बारे मे परामर्श दिया गया। पखावडे के दौरान उप स्वास्थ्य केन्द्र को कम से कम 30 पीएचसी को 150 सीएचसी को 500 और जिला अस्पताल को 700 हिमोग्लोबिन टेस्ट करने के निर्देश दिये गये। इस बार पोषण अभियान संबंधि प्रचार प्रसार सोशल मीडिया के जरिये करने के निर्देश दिये है ताकि युवा ज्यादा से ज्यादा जागरूक हो सके। 

पखवाडे के तहत यह हांेगी गतिविधिया 
गृह आधारित भ्रमण के दौरान कृमिमुक्ति के संबंध मे जानकारी दी जायेगी। गर्भावास्था के दौरान संस्थागत प्रसव, एएनसी पीएनसी जाॅच, भोजन, आराम व स्वच्छता की सलाह। गर्भवती के परिजनो को जन्म के उपरान्त एक घण्टे के अन्दर शिशु को स्तनपान करवाने की सलाह। आंगनबाडी केन्द्रो व सबसेन्टरो पर विद्यालय नही जाने वाले किशोर किशोरियो के स्वास्थ्य की जाॅच। एनिमिया मुक्त राजस्थान कार्यक्रम के तहत विद्यालयो मे किशोर बालक बालिकाओ से एनिमिया कुपोषण व स्वच्छता प्रबंधन पर चर्चा की जायेगी।

 

20 Views
palpal