palpal

palpal

Email: यह ईमेल पता spambots से संरक्षित किया जा रहा है. आप जावास्क्रिप्ट यह देखने के सक्षम होना चाहिए.

जयपुर 14 सितम्बर। बोधि प्रकाशन की 'दीपक अरोड़ा स्मृति पांडुलिपि प्रकाशन योजना' के चौथे वर्ष में चयनित-प्रकाशित दो काव्य पुस्तकों का लोकार्पण बोधि सभागार में हुआ। योजना में चयनित कृतियों की रचनाकार अंजना टंडन एवं जोशना बैनर्जी को 'दीपक अरोड़ा स्मृति सम्मान-2019 प्रदान किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वरिष्ठ कवि एवं दूरदर्शन के पूर्व निदेशक श्री कृष्ण कल्पित थे एवं अध्यक्षता प्रसिद्ध कथाकार तथा जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय जोधपुर के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ. सत्यनारायण ने की। कार्यक्रम का संयोजन फिल्मकार और प्रतिष्ठित लेखक श्री अविनाश त्रिपाठी ने किया। दिल्ली से पधारे कवि एवं आलोचक रवीन्द्र कुमार दास ने दीपक अरोड़ा के रचनाकर्म पर विस्तार से चर्चा की। योजना के निर्णायक मंडल के सदस्य गोविन्द माथुर ने पांडुलिपियों की चयन प्रक्रिया पर अपना वक्तव्य दिया। मुख्य अतिथि कृष्ण कल्पित ने कवि दीपक अरोड़ा को याद करते हुए कहा कि वे बेहद प्रतिभावान कवि थे। उनका असमय चले जाना साहित्य की क्षति है। उन्होंने चयनित पुस्तकों पर अपनी पारखी टीप भी दी। कार्यक्रम अध्यक्ष डॉ. सत्यनारायण ने चयनित पुस्तकों की दोनों रचनाकारों को बधाई दी एवं आशीर्वचन कहे। अतिथि कवियों के शानदार काव्य पाठ के साथ आयोजन का समापन हुआ। दीपक अरोड़ा की कविताओं का पाठ बनवारी कुमावत 'राज' ने किया। बोधि प्रकाशन की ओर से मायामृग ने सभी का आभार व्यक्त किया।

दीपक अरोड़ा स्मृति पांडुलिपि प्रकाशन योजना-2019 के तहत चयनित सुश्री अंजना टंडना की पुस्तक कैवल्य और सुश्री जोशना बैनर्जी आडवानी की पुस्तक सुधानपूर्णा का प्रकाशन किया गया है। इन पुस्तकों का लोकार्पण एवं रचनाकारों का सम्मान समारोह दिनांक 14 सितम्बर 2019 को अपराह्न 2 से 4 बजे बोधि सभागार, बोधि प्रकाशन, सी-46, सुदर्शनपुरा इंडस्ट्रियल एरिया मेन रोड, बाईस गोदाम, जयपुर में आयोजित होगा। संस्था की मीडिया प्रभारी शिवानी शर्मा ने बताया कि दीपक अरोड़ा स्मृति पांडुलिपि प्रकाशन योजना बोधि प्रकाशन की एक महत्वपूर्ण योजना है। ये इस योजना का चौथा वर्ष है । दीपक अरोड़ा एक प्रतिभाशाली कवि- जिन्हें कविता तो बहुत मिली पर उम्र बहुत कम। अल्पायु में उनका जाना, कविता के एक नये तेवर का असमय ठहर जाने जैसा है। उनकी कविताएं, जिनमें बहुधा पंजाबी मुहावरे वाली मारक शक्ति है- एकदम अलग ज़मीन पर कही गई हैं। खास बात ये कि वे अपनी ज़मीन खुद तैयार करते हैं, और उसमें प्रेम की पौध भी वे स्वयं लगाते हैं। यह पौध पुष्पित होगी, इसमें संदेह नहीं। 'वक्त के होंठों पर एक प्रेमगीत', 'समुन्दर इन दिनों' और 'अंतिम वार्ता के अवशेष' दीपक अरोड़ा के प्रकाशित कविता संग्रह हैं। दीपक की स्मृति को अक्षुण्ण रखने के बहुविध कार्यक्रमों के साथ ही 'दीपक अरोड़ा स्मृति पांडुलिपि प्रकाशन योजना' आरंभ की गई है। इसके तहत उन रचनाकारों से पांडुलिपियां आमंत्रित की जाती हैं, जिनकी अब तक किसी भी विधा में कोई स्वतंत्र पुस्तक प्रकाशित न हुई हो। ऐसा करने के पीछे भाव यह कि 'पहली पुस्तक की खुशी' इस योजना के माध्यम से रचनाकार को मिले। इस योजना के तहत पूर्व में प्रकाशित पुस्तकें इस प्रकार हैं- 2016 : जामुनी आंखों वाली एक लड़की और जेठ के बादल (अमित आनंद), पत्थरों के देश में देवता नहीं होते (अर्चना कुमारी), चांदमारी समय (अस्मुरारी नंदन मिश्र), अयोध्या और मगहर के बीच (कर्मानन्द आर्य), आवाज़ भी देह है (संजय कुमार शांडिल्य)। 2017 : पुनपुन और अन्य कविताएं (प्रत्यूष चन्द्र मिश्रा), मैं तुम्हें लिखना चाहूं अगर (प्रियंका वाघेला)। 2018 : गेहूं का अस्थि विसर्जन व अन्य कविताएं (अखिलेश श्रीवास्तव), तीसरी कविता की अनुमति नहीं (सुदर्शन शर्मा) प्रकाशित हुईं। इस वर्ष (2019)- 'कैवल्य' (अंजना टंडन), 'सुधानपूर्णा (जोशना बैनर्जी आडवानी) योजना में प्रकाशनार्थ चुनी गई हैं। प्रतिवर्ष कम से कम दो कविता-पांडुलिपियां चयनित किया जाना प्रस्तावित है। योजना के संबंध में कोई दावा या बड़ा वादा नहीं है। प्रयास रहेगा कि कुछ और अच्छी पुस्तकें इस योजना के बहाने से प्रकाशित हों। पांडुलिपि आमंत्रित किए जाने के समय से ही हमारा यह स्पष्ट मत था कि यहां किसी प्रकार से कवियों को श्रेष्ठतर या हीनतर मानने का भाव नहीं होगा। केवल अपनी सीमाओं के तहत चयन का प्रयास किया जाएगा। यह रेखांकित करना जरूरी है कि योजना का परिणाम तैयार करते समय किसी संग्रह को 'रिजेक्ट' करने का दंभ नहीं रहा। प्रकाशन की योजना केवल अपेक्षित संख्या में संग्रह चयनित करने की थी, निर्णायकों ने अपने विवेक से जो चुने, वे इस योजना में शामिल किए गए। ऐसा करने में बहुत अच्छी कविताओं के संग्रह भी छूट गए हो सकते हैं, इसे योजना और आयोजकों की सीमा ही माना जाना चाहिए; रचना या रचनाकार की कमी नहीं। इस योजना में पांडुलिपि भेजने वाले सभी रचनाकारों, योजना के पिछले वर्षों में निर्णायक रहे— सुधा अरोड़ा, डॉ. जीवन सिंह, मनोज छाबड़ा, ओमपुरोहित 'कागद', अर्चना वर्मा, नन्द भारद्वाज, निरंजन श्रोत्रिय, डॉ. पद्मजा शर्मा, मृदुला शुक्ला, अरुण देव, मणि मोहन, विनोद पदरज और इस वर्ष के निर्णायकगण अनामिका, ध्रुव गुप्त, गोविन्द माथुर, रुचि भल्ला। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वरिष्ठ कवि एवं दूरदर्शन के पूर्व निदेशक कृष्ण कल्पित होंगे एवं अध्यक्षता प्रसिद्ध कथाकार तथा जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय जोधपुर के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ. सत्यनारायण करेंगे। कार्यक्रम का संयोजन फिल्मकार और प्रतिष्ठित लेखक अविनाश त्रिपाठी करेंंगे।

 

जयपुर //गोपालपुरा रोड स्थित होटल C-9 में ऑस्कर मीडिया फिल्म्स एवं प्रोडक्शंस और केपी प्रोडक्शंस के संयुक्त तत्वाधान द्वारा एथनिक फैशन शोकेस 2019 का आयोजन किया गया। जिसमें फ्रेशर एवं प्रोफेशनल मॉडल्स ने अपने खूबसूरत अंदाज व रैंप वॉक द्वारा लेटेस्ट व ट्रेंडी डिजाइनर कलेक्शन शोकेस किया। शो ऑर्गेनाइजर विकास गुप्ता एवं शो डायरेक्टर कपिल राज ने बताया कि प्रतिभागियों को अलग अलग राउंड के जरिए परखा गया एवं शो से पहले उनक उनका पोर्टफोलियो शूट किया गया। शो में फैशन डिजाइनर इंद्रजीत दास व दीपा भाटी, मेकअप आशा देवी ओला, एवं ज्वेलरी योगिता जैन व महेश जैन द्वारा प्रेजेंट किया गया। इस शो में आकर्षण का केंद्र डिवाइन स्पार्क द्वारा स्पेशल डांस परफॉर्मेंस एवं मिस्टर एंड मिस मॉडल किंग एंड क्वीन 2019 व मिस्टर एंड मिस पिंक सिटी फैशन शो का पोस्टर लॉन्च रहा। शो की विनर पल्लवी जैन, फर्स्ट रनर अप ज्योति नागर, सेकंड रनर अप सुलेखा सैनी, थर्ड रनर दीक्षा शर्मा अप रही। विनर एवं रनर अप के अलावा बेस्ट स्टाइल आइकन, फैशन आइकन, इमर्जिंग मॉडल के अवॉर्ड भी दिए गए। इस शो के फैशन कोरियोग्राफर सुमित कुमावत, शो स्टॉपर लविश्का राजावत एवं मंच संचालन मोहिनी शर्मा ने किया।

इंदौर. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सोमवार को इंदौर में रोड शो किया। राजमोहल्ला से राजबाड़ा तक लगभग 4 किलोमीटर के रास्ते पर निकले रोड शो में हजारों समर्थक उपस्थित थे। इससे पहले उन्होंने उज्जैन में बाबा महाकाल की विशेष पूजा-अर्चना की और रतलाम में जनसभा को संबोधित किया। प्रियंका गांधी ने राजमोहल्ले पर स्थित शहीद भगतसिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर रोड शो को प्रारंभ किया। यह रोड शो मालगंज, नर्सिंह बाजार, बम्बई बाजार, गुरुद्वारा होते हुए लगभग 2 घंटे बाद राजवाड़ा पहुंचकर समाप्त हुआ। राजवाड़ा पर प्रियंका का संक्षिप्त भाषण हुआ जिसमें उन्होंने भाजपा पर जमकर निशाना साधा। राजबाड़ा पर प्रियंका ने कहा कि बड़ी-बड़ी बातें करने वाले नेेता से आप पूछिये कि उन्होंने अपाके लिए किया क्या है। जो आज बड़े बड़े वादे आपसे कर रहे हैं उनके घमंड को तोड़ दिजीए, उन्हें सबक सिखाईये, बहुत हो चुकी उनकी मनमानी, पिछले 5 साल से परेशान कर रखा है उन्होंने। अपने आप को तपस्वी कहने वाले हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सबक सिखाना है। लोकतंत्र को बचाना है तो आपका वोट सही पार्टी और उम्मीदवार को दे। गाड़ी से उतरकर लोगों से मिली प्रियंका एयरपोर्ट से राजमोहल्ला जाते समय प्रियंका गांधी ने रामचंद्र नगर चौराहे पर अचानक अपनी गाड़ी रुकवाई और वहां खड़े लोगों से मिलने जा पहुंची। उन्होंने वहां मौजूद लोगों से हाथ मिलाए, उनके हालचाल पूछे और पुन: गाड़ी में बैठ रोड शो के लिए रवाना हो गई। प्रियंका के रोड शो लगभग 4 किलोमीटर का था। इस पूरे क्षेत्र को कांग्रेसियों ने झंडे बैनरों से पाट दिया था। बड़ी संख्या में कांग्रेसी रोड शो में शामिल हुए। प्रियंका खुले रथ पर सवार थी, मप्र के मुख्यमंत्री कमलनाथ, छग के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, मंत्री सज्जन वर्मा,जीतू पटवारी,तुलसी सिलावट इंदौर से कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी पंकज संघवी आदि भी उनके साथ थे। एसपीजी की टीम ने रोड शो का पूरा रूट चेक करती जा रही थी। रोड शो के रास्ते पर लगभग 100 मंच लगाए गए थे। शो में महिलाओं और युवतियों की भारी भीड़ रही। रायबरेली से भी कुछ युवतियां प्रियंका के रोड शो के लिए इंदौर आई थी।

जयपुर// कल मदर्स डे के मौके पर सुजस सांस्कृतिक सेवा संस्थान द्वारा शहर भर की लगभग चालीस चुनिंदा महिलाओं को समाज में उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए सम्मानित किया गया। इस अवसर पर शिवानी शर्मा को बैस्ट एंकरिंग के लिए ग्रेटेस्ट मदर एवॉर्ड से नवाज़ा गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता जानी मानी स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ शोभा तोमर ने की। मुख्य अतिथि के रूप में राजस्थान यूनिवर्सिटी के लॉ कॉलेज की डायरेक्टर डॉ संजुला थानवी उपस्थित रहीं। विशिष्ट अतिथि के रूप में मिसेज वर्ल्ड 2017 और इंटरनेशनल टूरिज्म एम्बेसडर लीना शर्मा ने कार्यक्रम को संबोधित किया। इस मौके पर महिलाओं के स्वास्थ्य और स्वच्छता के संबंध में जानकारी दी गई और Anion सैनेट्री पैड का निःशुल्क वितरण भी किया गया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में महिलाओं की मौजदूगी रही। संस्था की ओर से संस्था का परिचय आशा मान ने दिया और धन्यवाद ज्ञापन प्रियंका सिन्हा की ओर से दिया गया।

इंदौर।आज 13 मई शाम 7:15 बजे लाभ मंडपम, रेसकोर्स रोड में गुजरात के मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी पार्टी प्रत्याशी शंकर लालवानी के समर्थन में सभा को संबोधित करेंगे एवं केन्द्रीय मंत्रीफ नितिन गड़करी रात्रि 8 बजे गुरू अमरदास हॉल में प्रबुद्धजनों से चर्चा करेगे।

पृष्ठ 1 का 429