palpal

palpal

Email: यह ईमेल पता spambots से संरक्षित किया जा रहा है. आप जावास्क्रिप्ट यह देखने के सक्षम होना चाहिए.

जलालाबाद अपने हलके जलालाबाद में प्रचार के पहले ही दिन रविवार को उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल लोगों के गुस्से का शिकार हो गए। हलके के गांव कंधवाला हाजर खां में जनसभा के बाद सुखबीर बादल से बात न करवाने के भड़के लोगों ने उनके काफिले की गाडिय़ों पर पथराव कर दिया और खुशी में भंगड़ा भी डाला।

सुखबीर की गाड़ी निकल चुकी थी, लेकिन लोगों ने उनके ओएसडी व एक सरपंच की गाड़ी को घेर लिया और पत्थर बरसाने शुरू कर दिए। पथराव से दो-तीन गाडिय़ों को नुकसान पहुंचा है। इस घटना में गांव माहमू खेड़ा के पूर्व सरपंच पलविंदर सिंह जख्मी हो गए। पथराव का वीडियो देर शाम सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें दिखाया गया है कि लोगों ने पहले गाडिय़ों को रोककर उन पर पथराव किया, बाद में खुशी में भंगड़ा भी डाला।

घटना के बाद पुलिस ने मौके पर पहुुंचकर स्थिति को नियंत्रण में करने की कोशिश की। देर रात पुलिस ने अज्ञात लोगों पर केस भी दर्ज कर लिया। घटना की छानबीन की जा रही है।

उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल का रविवार को जलालाबाद के गांव जंडवाला भीमेशाह, चक्क डब्बवाला, सजराना, कंधवाला, हाजर खां व अरनीवाला शेख सुभान के दौरे का कार्यकम था। शाम करीब छह बजे गांव कंधवाला में जनसभा के बाद वह अगले कार्यक्रम के लिए रवाना हो गए। गांव के लोग गांव की समस्याओं को लेकर सुखबीर बादल से बात करना चाहते थे, लेकिन डिप्टी सीएम ने उन्हें वक्त नहीं दिया और निकल गए। इससे लोग भड़क गए और पथराव शुरू कर दिया।

इससे पहले उप मुख्यमंत्री सुखबीर बादल जब लोगों को संबोधित कर रहे थे, तो उनकी जुबान फिसल गई। उन्होंने कहा कि ‘वड्डी गल्ल मैं तुहानू दसां, सब तों माड़ी पार्टी तिह्नां चों, अकाली दल… कांग्रेस ते ओ आप ऐ।’

जयपुर । प्रदेश में अवैध खनन माफिया पर प्रभावी कार्रवाई का संदेश दे चुके खान मंत्री सुरेंद्रपाल सिंह टीटी ने स्वयं ही माफिया पर लगाम कसनी शुरू कर दी है। उन्होंने  झुंझनुं जिले के मोड़ा पहाड़ क्षेत्र में हो रहे अवैध खनन की शिकायतों पर खदानों का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अनेकों खामियां उजागर होने पर टीटी ने खनन माफिया के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिये। खान मंत्री इस दौरे में झुंझनुं के जिला कलेक्टर प्रदीप बोरड़ व पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र कुमार गुप्ता भी थे। दबंगों की खदानों में पहली बार किसी खान मंत्री के औचक निरीक्षण से अवैध खनन माफिया में हडक़ंप मंच गया। हालात ये हो गए माफिया दबे पांव भाग खड़े हुए। कई खदानों में खनन एक्ट के खुलेआम उड़ रही धज्जियों से नाराज खान मंत्री सुरेंद्रपाल सिंह टीटी ने खान विभाग के स्थानीय अधिकारियों पर भी कठोर कार्रवाई के निर्देश दिये।
 
मुख्य रूप से ये पाई गई कमियां 
खान मंत्री के औचक निरीक्षण में पाया गया कि खादान क्षेत्र के 33 फीसदी हिस्से में वृक्षारोपण होना चाहिए मगर अधिकतर में नाममात्र के पेड़ थे। इसके अलावा खान की बेंच हाइट 10 मीटर की बजाय 80 से 90 मीटर पाई गई। अधिकतर खादानों में फैंसिंग नहीं होने से मंत्री ने स्थानीय खान अधिकारियों को कड़ी फटकार भी लगाई। सुरक्षा संबंधी उपायों की समीक्षा में पता चला कि माइंस में काम करने वाले मजदूरों के सेफ्टी जूते, टोपी, दस्ताने व सेफ्टी बेल्ट नहीं पहने हुए थे। खादान से बाजार में जाने वाले डंपर व ट्रेक्टर ट्रॉलियों रवन्ना या टीपी नहीं मिले।
 
संयुक्त जांच टीम करेगी मामले की जांच 
झुंझनुं जिले में खान मंत्री ने मुख्य रूप से ऋषि मोरवाल, रतन मोरवाल, पवन पुजारी, अशोक पुरोहित, मोहन पुरोहित व बीजेपी के कार्यकर्ता ओम आबुसरिया की खादानों का निरीक्षण किया।  निरीक्षण में मिली कमियों में सुधार के लिए स्थानीय अधिकारियों को निर्देशित किया। साथ ही प्रशासनिक जांच के लिए जयपुर से संयुक्त जांच टीम गठित कर इन खादानों की विस्तृत जांच की जाएगी।
 
पहले भी विवादों में रही है जिले की खानें 
झुंझनुं जिले के खासकर मोड़ा पहाड़ में वर्ष-2007 में खान विभाग के अधिकारियों ने खनन माफिया से सांठगांठ कर 24 खानों की स्वीकृति प्रदान कर दी थी। इसमें से वर्तमान में करीब 15 खादान संचालित हो रहे हैं। इस क्षेत्र में हालात ये हैं कि खादान संचालक नियमों को ताक पर रखकर अवैध ढंग से खनन में जुटे हुए हैं। हालात ये हैं कि इन खानों का स्वीकृत क्षेत्र का माल खत्म होने पर अधिकारियों ने माफिया से मिलीभगत कर पहाड़ पर ही माइंस स्वीकृत कर दी। इस अवैध खनन स्वीकृति के खिलाफ उच्च न्यायालय में मामले विचाराधीन हैं, जबकि पूरे प्रकरण की भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो भी जांच अलग से कर रहा है।

जयपुर 09 जनवरी राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने जल संरक्षण के लिए महत्वपूर्ण फोर वाटर कंसेप्ट के प्रवर्तक तथा आंध्रप्रदेश के पूर्व मुख्य अभियंता टी हनुमंथाराव के निधन पर शोक व्यक्त किया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि फोर वाटर कंसेप्ट के जरिए जल संरक्षण तथा सिंचाई के क्षेत्र में हनुमंथाराव ने देश के कई राज्यों में अपनी विशिष्ट सेवाएं दी। वे संयुक्त राष्ट्र के सलाहकार भी रहे।

नयी दिल्ली ,09 जनवरी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मात्र दस दिन के भीतर लोगों द्वारा एक करोड़ से अधिक भीम (भारत मनी इंटरफेस) एप डाउनलोड किये जाने पर प्रसंनन्ता व्यक्त की है।
श्री मोदी ने आज ट्वीट कर यह प्रसन्नता जाहिर की । उन्होंने कहा,“मुझे यह जानकर खुशी हो रही है कि दस दिन के भीतर एक करोड़ से अधिक भीम एप डाउनलोड किये गए हैं ”.

गांधीनगर/अहमदाबाद, 09 जनवरी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज गुजरात के दो दिवसीय दौरे पर आयेंगे और इस दौरान आठवें वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट और इससे जुडे पहले अंतर्राष्ट्रीय नोबल विजेता शृंखला संगोष्ठी सह कार्यशाला समेत कई कार्यक्रमों के अलावा गांधीनगर रेलवे स्टेशन के नये आधुनिक भवन का भूमिपूजन करेंगे तथा देश विदेश के 50 से अधिक अग्रणी कंपनियों के शीर्ष अधिकारियों के साथ ग्लोबल सीईओ समिट में भी शिरकत करेंगे।
श्री मोदी दोपहर बाद करीब दो बजे अहमदाबाद हवाई अड्डे पर पहुंचेगे और फिर गांधीनगर में राजभवन के लिए रवाना हो जाएंगे।
वह सबसे पहले शाम साढे चार बजे गांधीनगर में 250 करोड की लागत से नये और भव्य रूप में पुननिर्मित हो रहे आधुनिक रेलवे स्टेशन भवन के भूमिपूजन में शिरकत करेंगे।
(वार्ता)

नयी दिल्ली, 08 जनवरी (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कई नोबेल पुरस्कार विजेताओं से मुलाकात कर उनसे विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के माध्यम से देश के विकास पर चर्चा करेंगे।
विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय की ओर से आज एक वक्तव्य जारी कर इस बात की जानकारी दी गई।