palpal

palpal

Email: यह ईमेल पता spambots से संरक्षित किया जा रहा है. आप जावास्क्रिप्ट यह देखने के सक्षम होना चाहिए.

बरवा//श्रीमद् भागवत कथा सप्ताह ज्ञान यज्ञ के द्वितीय दिवस सैकड़ो भक्तगण शामिल होकर बड़ी धूमधाम से श्रीमद् भागवत कथा का सभी श्रद्धलुओ ने रस पान किया | जिसका आयोजन दिनांक 04/05/2019 से 11/ 05 /2019 तक किया जायेगा और 11/05/2019 को हवन वा विशाल भंडार का आयोजन किया जाएगा |

जबलपुर मध्य प्रदेश से आए विद्वान कथा व्यास ब्रज मोहन महाराज जी के द्वारा रसपान किया गया जिसके मुख्य आयोजक श्री रमेश चंद्र तिवारी ग्राम पुरवा पोस्ट बरवा जिला हरदोई के सानिध्य मैं श्रीमद् भागवत कथा का आयोजन किया गया. श्रीमद् भागवत कथा सुनने लिए दिन रविवार दिनांक 05/05/2019को भारी संख्या में पुरुष महिला भक्तगण शामिल हुये| कथा व्यास ब्रज मोहन महाराज जी ने बताया की श्री राधा रानी का स्मरण करने से सभी कष्ट काटते है और जो इस और जो भवसागर से पार होना चाहता है उसे सी राधा रानी अपने चरण में ले आती हैं कार्यक्रम का समय दोपहर 6:00 बजे रात्रि 10:00 बजे तक श्रद्धालुओं ने मंत्रमुग्ध होकर रसपान किया जिसमें ग्राम पुरवा पोस्ट बरवा के भक्तगण बहुत ही उदार भाव के साथ कथा का रसपान किया और संगीत में श्री वृंदावन धाम से पधारे कलाकारों ने सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया |

आदर्श कुमार ब्यूरो चीफ सत्य प्रश्न न्यूज़ उन्नाव

पाँचवे चरण के चुनाव में प्रदेश की 14 लोकसभा सीटों पर दोपहर 1 बजे तक कुल 35.43 फीसदी मतदान हुआ

- धौरहरा (खीरी) में दोपहर 1 बजे तक कुल 38.63 फीसदी मतदान हुआ

- सीतापुर में दोपहर 1 बजे तक कुल 38.40 फीसदी मतदान हुआ

- मोहनलालगंज में दोपहर 1 बजे तक कुल 37.38 फीसदी मतदान हुआ

- लखनऊ में दोपहर 1 बजे तक कुल 33.14 फीसदी मतदान हुआ

- रायबरेली में दोपहर 1 बजे तक कुल 32.60 फीसदी मतदान हुआ

- अमेठी में दोपहर 1 बजे तक कुल 33.94 फीसदी मतदान हुआ

- बाँदा में दोपहर 1 बजे तक कुल 40.39 फीसदी मतदान हुआ

- फतेहपुर में दोपहर 1 बजे तक कुल 33.17 फीसदी मतदान हुआ

- कौशाम्बी में दोपहर 1 बजे तक कुल 32.57 फीसदी मतदान हुआ

- बाराबंकी में दोपहर 1 बजे तक कुल 35.50 फीसदी मतदान हुआ

- फैज़ाबाद में दोपहर 1 बजे तक कुल 35.57 फीसदी मतदान हुआ

- बहराइच में दोपहर 1 बजे तक कुल 35.60 फीसदी मतदान हुआ

- कैसरगंज में दोपहर 1 बजे तक कुल 34.84 फीसदी मतदान हुआ

- गोण्डा में दोपहर 1 बजे तक कुल 34.77 फीसदी मतदान हुआ ।

अजमेर,(कलसी): श्री मसाणिया भैरव धाम पर रविवार को प्रात: च पालाल महाराज ने बाबा भैरव, मां कालिका एवं सर्वधर्म मनोकामनापूर्ण- स्तम्भ की पूजा-अर्चना की। धाम पर श्रद्धालुओं का आगमन शनिवार से ही आर भ हो गया था। भीषण गर्मी में रविवारीय मेले में राजगढ़ धाम पर श्रद्धालुओं का भारी जन सैलाब उमड़ पड़ा। राजगढ़ मसाणिया भैरवधाम चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा आए हुए श्रद्धालुओं के लिए ठंडे पानी व सुविधा के लिए छाया का उचित प्रबन्ध किया गया। मेले में भीड़ की सूचना पर अजमेर जिला पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप ने राजगढ़ मसाणिया भैरवधाम पर पहुंच कर का व्यवस्था का जायजा भी लिया। 
मेले में गुजरात के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अनिल प्रथम,  स भागीय आयुक्त एलएन मीणा, पूर्व सभापति सुरेन्द्र सिंह शेखावत, विश्व हिन्दू परिषद के महानगर मंत्री लेखराज सिंह राठौड़ व अन्य गणमान्य श्रद्धालुओं ने मनोकामनापूर्ण स्त भ की परिक्रमा कर बाबा भैरव से आशीर्वाद प्राप्त किया।  रविवारीय मेले में धाम पर पहुंचे हजारों श्रद्धालुओं ने नशामुक्ति महाअभियान में  शराब, बीड़ी-सिगरेट, गुटका, डोडा पोस्त, अफीम, चरस, गांजा, चोरी व अपराध को अपने जीवन मे दुबारा नहीं करने का संकल्प लिया। इस मौके पर मसाणिया भैरव धाम चेरीटेबल ट्रस्ट के पदाधिकारी व व्यवस्थापक ओमप्रकाश सैन के साथ, रमेश चन्द सेन, अविनाश सैन, बी.एल.गोदारा, राहुल सैन, कैप्टिन मुकेश सेन, प्रदीप काबरा, कमल शर्मा, टीएस राणावत, कमल सुनारीवाल, संजय चौहान आदि मौजूद रहे।
गुरमुखदास साहेब का वार्षिक उत्सव 8 को 
श्री ईश्वर मनोहर उदासीन आश्रम अजयनगर में सतगुरू बाबा गुरूमुख दास साहेब का वार्षिक उत्सव 8 मई को धूमधाम व श्रद्धापूर्वक मनाया जाएगा। महन्त स्वरूपदास नें बताया कि शाम को 5 बजे से 8 बजे तक सत्संग व कीर्तन होगें एंव संतो महात्माओं के सत्संग व प्रवचन होगे, उसके बाद पल्लव व प्रार्थना के बाद वार्षिक उत्सव का समापन होगा।

अजमेर,(कलसी): अजमेर के दरगाह धानमंडी क्षेत्र में रविवार दोपहर एक होटल में शॉर्ट सर्किट से आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। गनीमत यह रही कि समय रहते होटल में ठहरे मेहमानों को बाहर निकाल लिया गया। मौके पर पहुंची नगर निगम की दो दमकल ने काफी मशक्कत के बाद आग काबू पाया। आग की सूचना से क्षेत्र में अफरा-तफरी का माहौल बन गया। 
दरगाह थाना पुलिस के अनुसार धानमंडी स्थित होटल मन्नत में रविवार दोपहर ढाई बजे बिजली के तार में शॉर्ट सर्किट से आग लग गई। भू-तल पर लगी आग तेजी से होटल की पहली मंजिल तक पहुंच गई। आग लगने से बाजार में अफरा-तफरी मच गई। देखते ही देखते बाजार बंद हो गया। धुआं उठते ही होटल संचालक और कर्मचारियों ने यहां ठहरे लोगों को बाहर निकाला शुरू कर दिया। सूचना मिलते ही निगम की छोटी दमकल पहुंची। आग का विकराल रूप देख दमकल कर्मियों ने बड़ी दमकल मंगवाई। दमकल कर्मियों ने तत्परता दिखाते हुए कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। सूचना मिलते ही दरगाह सीओ सुरेन्द्र सिंह, दरगाह थानाप्रभारी हेमराज भी मौके पर पहुंच गए ओर स्थिति को संभाला।

आग में फंसे दो युवक:

दमकलकर्मी ने होटल के अन्दर आग में फंसे दो युवक को जिंदा बाहर निकाला। लिडिंग फायरमैन चन्द्रशेखर ने बताया कि आग बिजली के मु य बोर्ड में शॉर्ट सर्किट से लगी। बिजली के तार में तेजी से फैली आग होटल की प्रथम मंजिल तक पहुंच गई। प्रथम तल पर फंसे दो युवकों को सकुशल बाहर निकाल लिया गया। आग से होटल में लाखों का नुकसान होना बताया जा रहा है।

क्षेत्र की आधे घंटे बाद काटी बिजली सप्लाई:

दरगाह थाना प्रभारी हेमराज ने बताया कि एक प्रत्यक्षदर्शी विजय प्रकाश ने आग लगते ही फायर बिग्रेड और विद्युत वितरण निगम के कार्यालय को फोन कर आग लगने की सूचना दी। आग लगने के आधे घंटे बाद बिजली आपूर्ति बंद की गई। इससे करंट फैलने का खतरा बना रहा। काफी प्रयास के बाद फायर ब्रिगेड के न बर पर कॉल लग सका। हालांकि सूचना देने के पन्द्रह मिनट में फायर बिग्रेड की छोटी गाडिय़ां धानमंडी क्षेत्र में पहुंच आग पर बुझाने का काम शुरू कर दिया। 
इनका कहना है :

धानमंडी क्षेत्र की होटल मन्नत में आग लगने की सूचना मिली, जिस पर पुलिस और फायर ब्रिगेड तुरंत मौके पर पहुंचे। आग पर काबू पा लिया गया है। आग से कोई जान-माल का नुकसान नहीं हुआ सामान जलने से खराब हो गया, मामले की जांच की जा रही है।

- सुरेन्द्र कुमार, सीओ दरगाह क्षेत्र

अजमेर,(कलसी): यूं तो अजमेर शहर को स्मार्ट सिटी का दर्जा मिला हुआ है, लेकिन इस स्मार्ट सिटी में शहर के विभिन्न क्षेत्रों में दर्जनों जर्जर भवन आम लोगों की जान के लिए जोखिम बने हुए हैं। अजमेर नगर निगम प्रशासन व जिला प्रशासन इस तरफ कोई ध्यान नहीं देते हुए मूक दर्शन बना हुआ है या किसी हादसे का इंतजार कर रहा है। ज्ञात हो कि बरसात के दिनों में इन जर्जर भवनों के गिरने का अंदेश बना रहता है। निगम प्रशासन सिर्फ बरसात के शुरू होने से पहले इन भवन मालिकों को नोटिस देकर इतिश्री कर लेता है या बरसात में जब कभी कोई भवन गिरता है तो उस भवन मालिक के खिलाफ दिखावी कार्यवाही कर अपना पल्ला झाड़ लेता है। 

स्मार्ट सिटी अजमेर शहर के हर वार्ड में एक न एक जर्जर भवनों देखने को मिल ही जाएगा जो एक समस्या बना हुआ है। वहीं शहर के नला बाजार, दरगाह बाजार, पुरानी मंडी, अजमेरी दड़ा, लाखन कोटड़ी, खजाना गली, दर्जी मोहल्ला, आशागंज, डिग्गी बाजार, ऊसरीगेट, केसरगंज, आदर्श नगर आदि क्षेत्रों में पुराने व जर्जर भवनों कभी भी हादसों का न्यौता दे सकते हैं। ज्यादातर भवन पुराने बने हुए है तथा इनमें मकान मालिक व किराएदार के बीच कोई न कोई विवाद की स्थिति में है, जिसके चलते भवन मालिक इनकी मर मत नहीं करवाते जिससे भवन काफी जर्जर होते चलते जाते हैं। भवन मालिक अपने मकान की मर मत नहीं करा रहे हैं और भवन में निवास करने वाले किराएदारों को भी मर मत नहीं करने देते। शहर के कई जर्जर ओर पुराना भवन मालिकों के विवाद न्यायालय चल रहे है या अधिकांश विचाराधीन चल रहे है। शहर के कई जर्जर भवनों को नगर निगम जमींदोज कराना चाहता है, परंतु निगम प्रशासन भी शिकायतें मिलने पर भवनों को तकनीकी अधिकारियों से मौका निरीक्षण करवा कर जर्जर बताते हुए भवन मालिक व किराएदारों को नोटिस दे देता है। निगम के नोटिस के साथ ही किराएदार व मकान मालिक अपने-अपने स्तर से मकान को गिरवाने और उसकी मर मत करवाने की कोशिशों में लग जाते है तथा कई मामलों में न्यायालय का भी दखल करवाने का प्रयास किया जाता है। इसी रवैये के चलते नगर निगम में जर्जर भवनों की फहरिस्त काफी ल बी है। जैसे ही वर्षा ऋतु खत्म होती है निगम के अधिकारी भी इन मामलों की फाइल को बंद कर देते हैं ओर खामोश बैठ जाते है। जुलाई माह में मानसून आने की संभावना रहती है, लेकिन जर्जर भवन हमेशा आने-जाने वाले लोगों के लिए खतरा बना रहता है। ज्ञात हो कि पूर्व में जर्जर भवन गिरने की घटनाएं घटित हो चुकी है। 

पुलिस के कुछ आवासीय क्वार्टर भी जर्जर:

पुलिस प्रशासन द्वारा अपने कर्मचारियों को आवासीय क्वाटर कई इलाकों में बना कर सुविधा दे रखी है। परंतु कुछ क्वाटर्स काफी पुराने और देखभाल के अभाव में जर्जर हो चुके हैं और गिरने की स्थिति में है, जो काभी बड़ा हादसे में तब्दील हो सकता है। अलवरगेट थाने के नजदीक बने पुलिस के क्वाटर इस सच्चाई को बयां कर रहे हैं। इन क्वाटरों में रहने वाले पुलिसकर्मी मजबूरी वश अपना जीवन-यापन गुजार रहे है। पुलिस प्रशासन इन क्वाटरों की मर मत के लिए कोई बजट आवंटित नहीं करता तथा इसमें रहने वाले पुलिसकर्मी भी अपनी ओर से इसमें कोई खर्च नहीं करते। इसी के चलते ये क्वाटर्स इतने जर्जर हो गए है कि कभी भी गिर सकते है। 

वक्फ बोर्ड की कुछ स त्तियां भी जर्जर अवस्था में:

राजस्थान वक्फ बोर्ड के पदाधिकारी भी जर्जर संपत्तियों की सुध नहीं लेता,जिसके कारण यह संपत्तियां जर्जर होती जा रही है। स्थानीय प्रशासन कई मामलों में मस्जिद कमेटी को नोटिस जारी कर चुका है लेकिन कमेटी द्वारा किसी भी जर्जर संपत्ति संभाला नहीं जा रहा है। मस्जिद कमेटी संपत्तियों की तो हालत इतनी ज्यादा खराब है कि जिन इलकों में यह स पत्तियां है वहां के स्थानीय लोगों ने अपने स्तर पर बल्लियां व अन्य जुगाड़ कर छतों व दीवारों को गिरने से रोक रखा है। ये संपत्तियां भी घनी आबादी में बनी हुई है। 

अजमेर,(कलसी): केसरगंज स्थित आर्यसमाज के तत्वावधान में सत्संग भवन में रविवारीय साप्ताहिक सत्संग प्रात: 8 बजे आचार्य अमर सिंह शास्त्री के ब्रह्मत्व में देवयज्ञ व ब्रह्मयज्ञ से आर भ हुआ। उप प्रधान सोमरत्न आर्य के अनुसार यजमान के रूप में प्रो. रासासिंह, चन्दराम आर्य,लालचन्द आर्य एवं प्रभा शास्त्री मौजूद रहे। वेदिक विद्वान  मदन सिंह चौहान ने अपने प्रवचन में बताया कि सभी आश्रमों में गृहस्थ आश्रम ही श्रेष्ठ हैं  क्योंकि सभी अन्य आश्रमी लोग गृहस्थ का ही सहारा लेते है। हमें चितंन मनन करना चाहिए। हम दूसरों की बुराईयां खोजते रहते है परन्तु हमारे अन्दर ही बहुत सी बुराईयां मौजूद है। हमें परस्पर प्रेम पूर्वक व्यवहार करना चाहिए। ईश वंदना आचार्य अमर सिंह शास्त्री, पुष्पा क्षेत्रपाल व सत्यार्थ प्रकाश कथा का वाचन डॉ राधेश्याम शास्त्री ने किया। सत्संग कार्यक्रम का संचालन समाज के मंत्री चन्दराम आर्य ने किया।