palpal

palpal

Email: यह ईमेल पता spambots से संरक्षित किया जा रहा है. आप जावास्क्रिप्ट यह देखने के सक्षम होना चाहिए.
अजमेर 05 मई, (कलसी ) सिन्धुपति महाराजा द्ाहरसेन विकास व समारोह समिति अजमेर के संयोजन में 1307वें बलिदान दिवस के उपलक्ष में प्रति वर्ष की भांति इस बार भी 7वां राष्ट्रीय सिन्धुपति महाराजा दाहरसेन सम्मान 16 जून 2019 को आयोजित कार्यक्रम में दिया जायेगा। 
       कवंलप्रकाश किशनानी ने बताया कि सम्मान हेतु समिति की ओर से निर्णय लिया गया है कि सिन्धुपति महाराजा द्ाहरसेन के जीवन मूल्यों के संरक्षण, संवर्द्धन एवं प्रकाशन आदि के साथ सिन्धु सभ्यता पर किये गये शोध कार्य, साहित्यिक, लेखन कार्य, प्रकाशन एवं नाट्य विधा में किये गये उल्लेखनीय कार्य व सिन्ध से आये विस्थापितों के पुर्नवास, सभ्यता, संस्कृति के संरक्षण में किये गये श्रेष्ठ कार्य हेतु संस्था को सम्मानित किया जाये।
      सम्मान में श्रीफल, प्रशस्ति पत्र के साथ 51 हजार रूपये की नकद राशि प्रदान की जायेगी।  आवेदक संस्था को अपना नाम, पूरा पता व संस्था द्वारा किये गये सेवा व सामाजिक कार्यों का विवरण मय संलग्न प्रस्तुत करने होगें।
         महेन्द्र कुमार तीर्थाणी ने बताया कि समिति की ओर से प्रथम सम्मान वर्ष 2013 में इण्डियन इंस्ट्यिूट ऑफ सिन्धोलॉजी, आदीपुर, गांधीधाम को एवं द्वितीय सम्मान वर्ष 2014 को शदाणी दरबार, रायपुर (छतीसगढ) के सन्त युधिष्ठरलाल जी को तृतीय सम्मान वर्ष 2015 में सीमा जन कल्याण समिति जोधपुर को चतुर्थ सम्मान प्रेम प्रकाश मण्डल अमरापुर दरबार, जयपुर को, वर्ष 2017 में पांचवा हरीसेवा रिलीजियस एवं चेरिटेबिल ट्रस्ट, भीलवाडा को व वर्ष 2018 में छठवां सुधार सभा, अजमेर को समारोहपूर्वक कार्यक्रम आयोजित कर प्रदान किया गया था।
     इस वर्ष 2019 में आयोजित होने वाले सम्मान समारोह में सिन्धुपति महाराजा द्ाहरसेन राष्ट्रीय सम्मान हेतु आवेदन पत्र की प्राप्ति 30 मई, 2019 तक निर्धारित प्रपत्र में समिति कार्यालय स्वामी कॉम्पलेक्स, अजमेर में प्राप्त होना आवश्यक है।

 

राखिहो मोहे नित चरणन माॅंहि विनय कॅरू करिजोर ................. युगल चरण बिन मेरो अबंहु नहीं कितहॅू कोई ठौर
सर्कीतन के साथ की पुष्करराज में सरोवर जी की परिक्रमा
 
अजमेर 05 मई 2019 (कलसी) रविवार - प्रकृति और परमात्मा की अराधना स्वरूप गत 8 वर्षो से सन्यास आश्रम के अधिष्ठाता स्वामी षिवज्योतिषानन्द जी महाराज के पावन सानिध्यम में चल रही है। प्रभात फेरी बैसाख माह के अवसर पर पुष्कर पहंुची। परिवार के संयोजक उमेष गर्ग ने बताया कि प्रातः 5ः30 बजे वाहनो के माध्यम से पुष्कर पहंुच कर नवीन रंगनाथ मन्दिर से फेरी आरम्भ कर सरोवर जी की प्रदक्षिणा की। इस अवसर पर भारी संख्या में श्रृद्धालु उपस्थित रहे। सभी ने पुष्करराज में आजमन पूजन किया। प्रभात फेरी के विश्राम (प्राचीन रंग जी के मन्दिर में) समय मनमोहक सर्कीतन गोष्टठी का आयोजन हुआ जिसमें श्री जी महाराज के कृपापात्र षिष्य अषोक तोषनीवाल, आलोक माहेष्वरी, पं. महेष शर्मा, सुभाष सोनी ने भजनो की प्रस्तुत प्रदान की।
आज प्रभात फेरी में लक्ष्मी नारायण हटुका, रामरतन छापरवाल, गोकुल अग्रवाल, अषोक सिंहल, टिकम शर्मा, कैलाष जोषी, अमर सिंह कुमावत, रमेष चन्द अग्रवाल, षिवषंकर फतेहपुरिया, ओम प्रकाष मंगल, गंगाबिषन मंत्री, दिनेष परनामी अनिल गर्ग, सत्यनारायण नारियवल वाले, सन्यास आश्रम के बालको सहित भारी संख्या में श्रृद्धालु उपस्थित रहे।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को थप्पड़ मारा गया है. नई दिल्ली लोकसभा क्षेत्र में रोड शो के दौरान केजरीवाल को सुरेश नामक शख्स ने थप्पड़ जड़ दिया. सुरेश को समर्थकों ने पकड़ लिया. बाद में पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है. पुलिस उससे मोती नगर पुलिस स्टेशन में पूछताछ कर रही है.

बता दें, आज यानी शनिवार को अरविंद केजरीवाल नई दिल्ली लोकसभा सीट के करमपुरा इलाके में चुनाव प्रचार कर रहे थे. रोड शो के दौरान अचानक लाल टी शर्ट पहना सुरेश गाड़ी पर चढ़ गया और उसने केजरीवाल को थप्पड़ मार दिया. इससे पहले की समर्थक कुछ समझ पाते कि थप्पड़ मारने वाला सुरेश भागने लगा. समर्थकों ने उसे पकड़ लिया और पुलिस को सौंप दिया है.

पुलिस ने थप्पड़ मारने वाले शख्स को हिरासत में ले लिया है. फिलहाल उसकी कैलाश पार्क निवासी सुरेश के रूप में हुई है. बताया जा रहा है कि सुरेश, केजरीवाल से बहुत नाराज था. वह पहले से इंतजार कर रहा था. जैसे ही केजरीवाल आए, उसने गाड़ी पर चढ़कर थप्पड़ जड़ दिया.

इस घटना के बाद भी केजरीवाल का चुनाव प्रचार जारी है और वह रोड शो कर रहे हैं. इस घटना के बाद आम आदमी पार्टी प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज का कहना है कि बीजेपी या मोदी भक्तों ने इस तरह की घटनाओं को अभी तक अंजाम दिया है. इस बार भी मुझे ऐसा ही लगता है. हालांकि, बीजेपी ने आम आदमी पार्टी के आरोपों को खारिज कर दिया है.

2014 में भी केजरीवाल को मारा गया था थप्पड़

इससे पहले 4 अप्रैल, 2014 में भी अरविंद केजरीवाल को एक ऑटो ड्राइवर ने थप्पड़ मारा था. केजरीवाल सुल्तानपुरी इलाके में रोड शो कर रहे थे, तभी ऑटो ड्राइवर आया. पहले उसने केजरीवाल को माला पहनाया, फिर एक जोरदार थप्पड़ मारकर भागने लगा, जिसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया था. इस घटना से पहले 2016 में केजरीवाल पर एक महिला ने स्याही फेंक दिया था. इसी साल लुधियाना में केजरीवाल की कार पर हमला किया गया था.

 
 
 
 
 जयपुर में भाजपा और कांग्रेस का रोड शो, दोनों रोड शो में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता  रहे मौजूद
 

जयपुर. शनिवार को जयपुर शहर में कांग्रेस उम्मीदवार ज्योति खंडेलवाल के रोड शो के दौरान मोदी के नारे लगने से हंगामा मच गया। जिसके बाद तो पक्ष आमने सामने हो गए। हाथापाई होती देख मौके पर मौजूद पुलिस दल ने दोनों को अलग कर दिया। जिसके बाद भी मोदी के नारे लगाते लोग नहीं रुके। वे दूर खड़े ही मोदी-मोदी के नारे लगाते रहे। मामले को संभालते हुए किसी भी घटना से बचने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस दल दोनों पक्षों के बीच खड़ा हो गया।

जानकारी अनुसार, ज्योति खंडेलवाल आज जयपुर शहर में रोड शो कर रही हैं। इस दौरान अविनाश राय खन्ना, रघु शर्मा और महेश जोशी समेत तमाम बड़े नेता इस रोड शो मैं मौजूद थे। करीब 12.30 बजे ये रोड शो चांदपोल बाजार के पास दीनानाथ जी की गली से गुजरा।

इस दौरान एक पक्ष ने मोदी-मोदी के नारे लगाना शुरू कर दिया। जिससे कांग्रेस कार्यकर्ता भड़क गए। उन्होंने मोदी समर्थकों के साथ धक्का मुक्की शूरू कर दी। पुलिस ने तुरंत एक्शन लेते हुए दोनों को अलग किया। इस दौरान कांग्रेस समर्थकों ने भी जवाब मैं चौकीदार चोर है के नारे लगाए।

शहर में आज भाजपा और कांग्रेस दोनों के रोड शो है। सूबह सबसे पहले भाजपा का रोड शो शुरू हुआ। जिसमें जयपुर ग्रामीण से उम्मीदवार राज्यवर्धन राठौड़ ने झोटवाड़ा क्षेत्र में रोड शो किया। इस दौरान राजपाल राठौड़ समेत कई नेता उनके साथ मौजूद रहे। साथ बड़ी संख्या में लोग भी पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा राष्ट्रवाद और युवा जोश व ऊर्जा से भरपूर इस विशाल ऐतिहासिक रोड शो में जयपुर ग्रामीण परिवार के आप सभी साथियों का हार्दिक अभिनंदन करता हूं!

वहीं. जयपुर शहर से उम्मीदवार रामचरण बोहरा ने गोविंद देवजी मंदिर में पूजा कर रोड शो की शुरुआत की। इस दौरान वसुंधरा राजे भी मौजूद रही। साथ ही पार्टी के कई बड़े नेता मौजूद रहे। उन्होंने परकोटे (पुराना जयपुर) में रोड शो किया।

कांग्रेस की तरफ से जयपुर शहर के उम्मीदवार ज्योति खंडेलवाल ने भी रोड शो किया। दोनों ही पार्टियों ने परकोटे (पुराना जयपुर) से अपने रोड शो की शुरुआत की। इस दौरान दोनों रोड शो में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे। जिसके कारण परकोटा पूरी तरह चुनावी रंग में रंगा नजर आया। इस दौरान नाच गाने और ढोल के साथ कांग्रेस का रोड शो चांतपोल हनुमान मंदिर पहुंचा। इस दौरान ज्योति खंडेलवाल के साथ अविनाश पांडे, रघु शर्मा, महेश जोशी के साथ पार्टी के कई बड़े नेता मौजूद रहे।

 

रविवार को मध्यप्रदेश के सागर और ग्वालियर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दो सभाएं करेंगे। पहले ये सभाएं 6 मई को होनी थी। लेकिन, सागर में होने वाली सभा की शिकायत चुनाव आयोग से किए जाने के बाद कार्यक्रम में बदलाव किया गया है।

सागर में छह मई को होने वाली प्रधानमंत्री की सभा के संबंध में कांग्रेस ने चुनाव आयोग से शिकायत की थी। इसमें बताया था कि सागर में तीन विधानसभा क्षेत्र दमोह लोकसभा क्षेत्र में आते हैं। छह मई को मतदान होना है। इसलिए सभा करने की अनुमति नहीं दी जाए। इसके बाद आयोग ने भाजपा को छह की बजाय पांच या सात सात मई को प्रधानमंत्री की सभा कराने की सलाह दी थी। भाजपा को पांच मई मुफीद लगी और अब इसी दिन मोदी की सभा होने जा रही है।

5 या 7 को लेकर बनी रही उलझन
भाजपा नेताओं ने बताया कि पीएम मोदी का कार्यक्रम पहले 6 मई का था। इसी दिन उनकी एक सभा सागर जिले में भी थी, लेकिन उसमें पेंच यह फंस गया कि दमोह लोकसभा क्षेत्र में मतदान 6 मई को है और इस लोकसभा सीट के 3 विधानसभा क्षेत्र रहली, बंडा और देवरी सागर जिले के हैं। इसलिए चुनाव प्रभावित होने की आपत्तियों के बाद सागर की सभा भी 6 की बजाय 5 मई को कर दी गई है। सागर के कारण ही ग्वालियर की सभा की तारीख बदली है। सूत्रों के अनुसार 7 मई को भी सभा कराने पर विचार किया गया, लेकिन उस दिन अक्षय तृतीया होने के कारण ग्वालियर भाजपा संगठन ने 5 मई की तारीख बेहतर समझी।

ग्वालियर में शाम को सभा : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 मई की दोपहर में सागर आएंगे। उनकी सुरक्षा में तैनात एसपीजी ने कजलीवन मैदान, सदर और विट्ठलनगर का इलाका अपनी निगरानी में ले लिया है। इसके बाद प्रधानमंत्री ग्वालियर पहुंचेंगे। यहां मेला ग्राउंड में सभा होगी। शाम को प्रधानमंत्री दिल्ली के लिए रवाना होंगे

नई दिल्ली: आज पांचवे चरण की वोटिंग के लिए चुनाव प्रचार थम जाएगा। इस चरण में कांग्रेस के दिग्गज नेताओं की किस्मत दांव पर लगी है। पांचवें चरण में 6 मई को 7 राज्यों की 51 सीटों के लिए वोटिंग होगी। इस चरण में यूपी की सबसे ज्यादा-14, बिहार की 5, जम्मू-कश्मीर-2, झारखंड-4, मध्य प्रदेश-7, राजस्थान-12, और पश्चिम बंगाल की 7 सीटों पर वोट डाले जाएंगे।

पाचंवा चरण बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकिं इसमें यूपी की सबसे ज्यादा सीटों पर चुनाव हो रहा है। इस चरण में यूपी की अमेठी, रायबरेली, लखनऊ, धौरहरा, सीतापुर, मोहनलाल गंज, बांदा, फतेहपुर, कौशाम्बी, बाराबंकी, फैजाबाद, बहराइच, कैसरगंज, और गोंडा में मतदान होगा। इसके साथ-साथ बिहार की सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, सारण और हाजीपुर सीट पर भी वोट डाले जाएंगे।

राजस्थान की श्रीगंगानगर, बीकानेर, चूरू, झुन्झुनू, सीकर, जयपुर (ग्रामीण), जयपुर, अलवर, भरतपुर, करौली-धौलपुर, दौसा और नागौर सीटों के उम्मीदवारों की किस्मत भी ईवीएम में कैद होगी। मध्य प्रदेश की टीकमगढ़, दमोह, खजुराहो, सतना, रीवा, होशंगाबाद और बेतूल सीट के लिए भी वोटिंग होगी।

6 मई को जनता जिन उम्मीदवारों का फैसला करेगी उनमें पहली सीट है अमेठी की जहां कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के सामने हैं बीजेपी की फायर ब्राडं नेता और केन्द्रीय मंत्री बीजेपी स्मृति ईरानी। दूसरी सीट है रायबरेली जहां कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी को बीजेपी के दिनेश प्रताप सिंह टक्कर दे रहे हैं।

साथ ही लखनऊ की सीट पर भी वोटिंग होगी जहां बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केन्द्रीय गृह मंत्री बीजेपी राजनाथ सिंह का मुकाबला कांग्रेस के आचार्य प्रमोद कृष्णम और एसपी-बीएसपी की उम्मीदवार पूनम सिन्हा से है।

यूपी के बाद अगर बात बिहार की करें तो वहां भी कई दिग्गज 6 मई की वोटिंग का इंतज़ार कर रहे हैं। मधुबनी सीट पर महागठबंधन की वीआईपी के बद्री कुमार के सामने बीजेपी के अशोक यादव और पूर्व कांग्रेस नेता शकील अहमद हैं जो निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। हाजीपुर से लोकजनशक्ति पार्टी के पशुपति कुमार पारस का मुकाबला आरजेडी के शिव चंदर राम से है। सारण सीट पर आरजेडी के चंद्रिका राय को बीजेपी के नेता राजीव प्रताप रूडी से मुकाबला करना है।

ज़ाहिर है कि बिहार और यूपी में कांटे की टक्कर में इस बार दिग्गजों की किस्मत का फैसला होना है। कुछ और दिगग्जों की बात करें तो झारखंड में हजारीबाग सीट से बीजेपी के नेता और केन्द्रीय मंत्री जयंत सिन्हा का मुकाबलबा कांग्रेस नेता गोपाल साहू से है। खूंटी में बीजेपी के अर्जुन मुंडा के सामने कांग्रेस के कालीचरण मुंडा हैं। रांची से बीजेपी के संजय सेठ को कांग्रेस नेता सुबोधकांत सहाय टक्कर दे रहे हैं।

बीकानेर से बीजेपी नेता और केन्द्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल के सामने कांग्रेस नेता मदनगोपाल मेघवाल हैं तो जयपुर ग्रामीण से केन्द्रीय मंत्री कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को कांग्रेस की कृष्णा पूनिया टक्कर दे रही हैं। ज़ाहिर है पांचवा चरण बहुत महत्वपूर्ण होने जा रहा है क्योंकि इस चरण में कांग्रेस के कैप्टन खुद मैदान में है और उनको स्मृति ईरानी से कड़ी टक्कर भी मिल रही है।